You are here

Katyayani Maa ( कात्यायिनी ) Puja Vidhi, Mantra, Stuti, Swaroop : Navratri 2020

katyayani-maa-statue-painted-with-golden-color

Katyayani Maa : नवरात्रि के छठे दिन  माँ कात्यायिनी की पूजा की जाती है। इनके जन्म के बारे में अलग अलग कहावत है स्कंद पुराण और वामन में। स्कंद पुराण में मान्यता है की देवी के  यह स्वरूप का जन्म प्रभु के नैसर्गिक  क्रोध के कारण हुआ था और वामन में यह लिखा गया है कि सभी देवताओ की शक्ति को मिलाकर माँ के यह स्वरुप का जन्म हुआ था । 

इनको यह स्वरुप कात्यायन ऋषि मुनि ने दिया था इसलिए इनका नाम कात्यायिनी अभिनिहित किया गया।

इन्होने पार्वती के द्वारा अर्पित किये गए सिंह पर सवारी करके महिषासुर का विनास किया था। 

माँ कात्यायिनी मंत्र / Katyayani Maa Mantra

ॐ देवी कात्यायन्यै नमः॥

प्रार्थना और पूजा विधि

चन्द्रहासोज्ज्वलकरा शार्दूलवरवाहन ।

कात्यायनी शुभं दद्याद्देवी दानवघातिनी ॥

इनकी पूजा में शहद का बहुत महत्व होता है क्योकि माँ को शहद बहुत प्रिय है और शहद युक्त पान ही माँ को अर्पित किया जाता है।

माता की पूजा में लाल रंग के कपड़ो का भी बहुत महत्व होता है। 

माँ कात्यायिनी स्तुति

या देवी सर्वभू‍तेषु माँ कात्यायनी रूपेण संस्थिता।

नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमो नमः॥

देवी  कात्यायिनी का स्वरुप/ Katyayani Maa Swaroop

माता का स्वरुप शोभाशाली, प्रकाशवान एवं  चमकीला है। माता के चार हाथ है। माँ के नीचे वाली भुजाये वरमुद्रा में है और ऊपरवाली भुजाये अभयमुद्रा में है। 

 माँ  बाईं ओर की भुजाओ में तलवार और कमल पुष्प धारण किये हुए है और माता की सवारी सिंह है। 

माँ कात्यायिनी की पूजा का महत्व/Katyayani Maa Puja

माता की पूजा करके आपके शरीर में ऊर्जा का संचार होता है और आपके सारे  संकट दूर हो जाते है।

माँ कात्यायिनी की पूजा से कुंवारी कन्याओ का विवाह संभव हो जाता है और उन्हें एक उत्तम वर की प्राप्ति होती है। माँ की पूजा से सारे संकट, डर, शोक, रोग आदि सब नष्ट हो जाते है। 

Chaitra Navratri 2021 Dates

13  अप्रैल 2021: माता शैलपुत्री की पूजा नवरात्रि के पहले दिन की जाएगी। 

14 अप्रैल 2021माता ब्रह्मचारिणी की पूजा नवरात्रि के दूसरे दिन की जाएगी।

15 अप्रैल 2021 : माता चंद्रघंटा की पूजा नवरात्रि के तीसरे  दिन की जाएगी।

16 अप्रैल 2021 : माता कूष्मांडा की पूजा नवरात्रि के चौथे  दिन की जाएगी।

17 अप्रैल 2021: स्कंद माता की पूजा नवरात्रि के पांचवे  दिन की जाएगी।

18 अप्रैल 2021कात्यायिनी की पूजा नवरात्रि के छटवे  दिन की जाएगी।

19 अप्रैल 2021कालरात्रि की पूजा नवरात्रि के सातवें  दिन की जाएगी।

20 अप्रैल 2021 महागौरी की पूजा नवरात्रि के आठवें दिन की जाएगी।

21 अप्रैल 2021 : सिद्धिदात्री की पूजा नवरात्रि के नौवें  दिन की जाएगी।

और देखे :- Chaitra Navratri 2020: इस नवरात्रि में 400 सालों बाद बन रहा है ये महासंयोग |

Pushkar Agarwal
I am greatly interested in festivals all around the world because it helps me discover new thoughts, beliefs, and practices of different people celebrating various types of sacred rituals each having its own joy and happiness. I hope you will enjoy my blog.
https://festivals.currentnewstimes.com/
Top