Child-with-lot-of-different-holi-colours-on-face

Holi Story in Hindi with Pictures | होली की कहानी |

Holi Story in Hindi

इस आर्टिकल में जाने होली की सच्ची कहानी हिंदी में ( Holi Story in Hindi ) और जाने की आखिर क्यों होली मनाई जाती है?

Know the story of Holi in English:- The True Holi Story With Pictures in English


1) एक समय की बात है जब दानव राजा
“हिरण्यकश्यप” ने पृथ्वी के सभी राज्यों को जीत लिया था।

Holi-Story-in-hindi-image-1

2) अपने घमंड के कारण उसने अपने राज्य में सबको आदेश दिया की सिर्फ उसकी ही पूजा कि जाएगी।

Holi-Story-in-hindi-image-2

3) लेकिन उसका पुत्र प्रह्लाद भगवान विष्णु को ही मानता था और अपने पिता की पूजा करने से उसने मना कर दिया। 

Holi-ki-kahani-2020

4) इसी वजह से वह अपने पुत्र को मारने के लिए अनेक प्रयास करता था परन्तु हर बार भगवान विष्णु उसे बचा लेते थे।

Holi-Story-in-hindi-image-4

5) अंत में उसने अपनी बहन होलिका को आग में प्रह्लाद के साथ जाने के लिए बुलाया क्योकि उसे पता था की होलिका को वरदान है की वह आग से जल नहीं मर सखती।

Holi-Story-in-hindi-image-5

6) चतुराई से होलिका ने प्रह्लाद को अपनी गोद में बैठा लिया और फिर वह स्वयं जलती हुई आग में बैठ गयी।

Holi-Story-in-hindi-image-6

7) लेकिन होलिका को यह नहीं पता था की यह वरदान उसे आग से सिर्फ तभी बचा सकता है जब वह अकेली हो।

Holi-Story-in-hindi-image-7

8) इस कारण की वजह से होलिका आग में जल कर मर गयी और प्रह्लाद सुरक्षित बहार आ गए क्योंकि प्रह्लाद भगवान विष्णु की सच्ची भक्ति करते थे इसलिए उन्हें कोई नुकसान नहीं पंहुचा ।

Holi-Story-in-hindi-image-8

8) होली शब्द होलिका से लिया गया है और यह त्यौहार बुराई पर अच्छाई की विजय के रूप में मनाया जाता है।

Holi-Story-in-hindi-image-9

इस कहानी को पढ़ने के बाद आप समझ गए होंगे की होली का त्यौहार बुराई पर अच्छाई की जीत का स्वरूप है। 

प्रभु  के सच्चे भक्त को कोई हानि नहीं पहुँचा सकता चाहे वो कितना भी ताकतवर क्यों न हो इसलिए हमे भगवान पर प्रह्लाद की तरह सच्ची आस्था रखनी  चाहिए। 

अगर आपको हमारा आर्टिकल पसंद आया हो तो इसे शेयर करे और होली की सच्ची कहानी सब तक पहुँचाये। 

धनयवाद 

होली की आपको बहुत बहुत शुभकामनाये। 

Also listen:- 50 Best Holi Songs | Bollywood | Bhojpuri | Dj | Old | Latest | Videos |

https://festivals.currentnewstimes.com/holi-products-pichkari-holi-colors/

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *